Sunday, June 26, 2022
Home उत्तराखंड हिल स्टेशनों में पारा मैदान से 15 डिग्री तक कम

हिल स्टेशनों में पारा मैदान से 15 डिग्री तक कम


देहरादून। भीषण गर्मी का कहर एक बार फिर शुरू हो गया है। मैदानी क्षेत्रों में चिलचिलाती धूप के साथ उमस भरी गर्मी पड़ने से लोग बेचैन हैं। आने वाले दिनों में राहत मिलने की उम्मीद नजर नहीं आ रही है। लेकिन कुमाऊं के हिल स्टेशनों में राहत होने के साथ ही मैदानी इलाकों के मुकाबले अधिकतम तापमान करीब 15 डिग्री सेल्सियस तक कम है। वहीं रात के समय पारा 20 डिग्री सेल्सियस के नीचे रिकॉर्ड किया जा रहा है।

देहरादून और हरिद्वार की बात करें तो गर्मी के इस सीजन यहां पारा 40 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है। हालांकि मई के शुरुआती हफ्ते पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के चलते हुई बारिश से पारे में गिरावट हुई थी। लेकिन बीते तीन दिनों से तापमान फिर बढ़ रहा है। सोमवार को देहरादून में तापमान 37.8 डिग्री सेल्सियस और हरिद्वार  में 38 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। जबकि, मसूरी में दिन का पारा 27.31 डिग्री और सीमांत क्षेत्र औली में 22.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इसी से मैदान और पहाड़ी क्षेत्रों के मौसम में अंतर का अहसास किया जा सकता है। वहीं देश की राजधानी दिल्ली सहित भट्टी की तरह तपते अन्य शहरों की तुलना में उत्‍ताखण्‍ड के हिल स्टेशन काफी राहत देने वाले हैं।

हिल स्टेशनों में औली सबसे सर्द :
मंडल के प्रमुख हिल स्टेशन मैदानों की तुलना में काफी ठंडे हैं। लेकिन नैनीताल और मुक्तेश्वर से भी ज्यादा पिथौरागढ़ जिले का मुनस्यारी सबसे ज्यादा सर्द है। सोमवार को यहां अधिकतम तापमान 22.0 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 12.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यहां लोग अभी भी गर्म कपड़े पहन रहे हैं। इधर, कुमाऊं के नैनीताल, मुक्तेश्वर, कौसानी और रामगढ़ क्षेत्र में थोड़ी सी बारिश होने पर ठंड हो जा रही है।





Source link

RELATED ARTICLES

मुख्यमंत्री ने जन समस्याओं के उचित समाधान के लिए अधिकारियों को दिए दिशा निर्देश

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को मुख्यमंत्री आवास स्थित मुख्य सेवक सदन में प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों से आये लोगों की समस्याओं...

मुख्यमंत्री घसियारी कल्याण योजना के लिए सभी पर्वतीय 11 जिले चयनित

सरकार की यह योजना चार जिलों की महिलाओं के लिए वरदान साबित हुई थी 150 एमपैक्स के जरिए मिलेगा साइलेज सरकार की यह योजना...

बद्री—केदार की तर्ज पर भव्य स्वरूप लेगा बागनाथ धाम : सचिव पर्यटन

भारत सरकार की प्रसाद योजना के अंतर्गत किए जाएंगे विकास कार्य देहरादून । सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर द्वारा कुमाऊँ भ्रमण के तीसरे दिन...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

आपको जानकारी है कार्यकाल खत्म होने के बाद कहां रहते हैं भारत के राष्ट्रपति..?

नई दिल्ली। राष्ट्रपति भवन को भारत की शक्ति, शान और सुंदरता के प्रतीक के रूप में भी देखा जाता है। वर्तमान राष्ट्रपति रामनाथ...

मुख्यमंत्री ने जन समस्याओं के उचित समाधान के लिए अधिकारियों को दिए दिशा निर्देश

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को मुख्यमंत्री आवास स्थित मुख्य सेवक सदन में प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों से आये लोगों की समस्याओं...

मुख्यमंत्री घसियारी कल्याण योजना के लिए सभी पर्वतीय 11 जिले चयनित

सरकार की यह योजना चार जिलों की महिलाओं के लिए वरदान साबित हुई थी 150 एमपैक्स के जरिए मिलेगा साइलेज सरकार की यह योजना...

अमरनाथ यात्रा से पहले श्राइन बोर्ड का बड़ा फैसला, चिप्स-समोसा, कोल्ड ड्रिंक समेत जंक फूड बैन

नई दिल्ली।  2 साल बाद फिर से अमरनाथ यात्रा शुरू हो रही है। हालांकि, अमरनाथ यात्रा के शुरू होने से पहले खाने की...

अमेरिकी महिलाएं अब कैसे कराएंगी गर्भपात, प्रग्नेंसी को खत्म करने के लिए बढ़ेगा पिल्स का इस्तेमाल?

वॉशिंगटन। अमेरिका के उच्चतम न्यायालय ने रो बनाम वेड मामले में दिए गए फैसले को पलटते हुए गर्भपात के लिए संवैधानिक संरक्षण को...

बद्री—केदार की तर्ज पर भव्य स्वरूप लेगा बागनाथ धाम : सचिव पर्यटन

भारत सरकार की प्रसाद योजना के अंतर्गत किए जाएंगे विकास कार्य देहरादून । सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर द्वारा कुमाऊँ भ्रमण के तीसरे दिन...

CM धामी ने लोकतंत्र सेनानियों के सम्मान समारोह कार्यक्रम में किया प्रतिभाग, 27 लोकतंत्र सेनानियों और उनके परिजनों को किया सम्मानित

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शनिवार को बिगवाड़ा स्थित पार्टी कार्यालय पहुॅचकर ’’आपातकाल के दौरान लोकतंत्र की रक्षा हेतु संघर्ष करने एंव जेलों...

हाइवे चौड़ीकरण में एनएच डोईवाला की मनमानी, जलसंस्थान के कई चेंबर तोड़ डाले, ठीक करने को लेकर एनएच और जलसंस्थान आमने-सामने

देहरादून। सालों से लड़का पड़ा हरिद्वार-देहरादून हॉइवे के चौड़ीकरण का काम कछुवा गति से जारी है। कार्यदायी संस्था बदले के बाद कुछ समय...

तो अग्रवाल है रेखा-सचिन के बीच झगड़े का कारण.?

 कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य का रहा है विवादों से लंबा नाता, अब तबादले बन गये मुसीबत देहरादून ।  6 जिला पूर्ति अधिकारियों के तबादले...

CM धामी ने शुक्रवार को नई दिल्ली में केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेद्र सिंह शेखावत से की शिष्टाचार भेंट

देहरादून। मुख्यमंत्री ने जमरानी बाँध परियोजना पर शीघ्र कार्य प्रारम्भ कराये जाने के लिए प्रस्तावित परियोजना को प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना (वृहत सिंचाई) के...