Saturday, October 8, 2022
Home राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र आज से शुरु, सत्ता पक्ष ने...

उत्तर प्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र आज से शुरु, सत्ता पक्ष ने शांति से सत्र चलाने का किया अनुरोध


उत्तर प्रदेश।  विधानसभा का मानसून सत्र आज से शुरू होने जा रहा है। 23 सितंबर तक चलने वाले 18वीं विधानसभा के दूसरे सत्र में सत्ता पक्ष ने शांति से सत्र चलाने का अनुरोध किया है, वहीं विपक्ष ने महंगाई और कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर सरकार घेरने का ऐलान किया है। सदन की कार्यवाही को शांतिपूर्ण तरीके से चलाने के लिए विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना की अध्यक्षता में सर्वदलीय बैठक की गई। महाना ने सभी दलों से सदन को सुचारू रुप से चलाने में मदद का अनुरोध किया है।

बैठक में विधानसभा अध्यक्ष ने सभी दलीय नेताओं से सहयोग का अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि संसदीय व्यवस्था में संवाद और सकारात्मक चर्चा-परिचर्चा के माध्यम से लोकतंत्र मजबूत होता है। उन्होंने सभी दल के नेताओं से अनुरोध किया कि वे अपना-अपना पक्ष सदन में शालीनता एवं संसदीय मर्यादा के अन्तर्गत रखे और प्रेमपूर्ण वातावरण में सदन में बहस करें। इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जनता ने बड़े विश्वास के साथ सभी विधायकों  चुनकर भेजा है। उनकी अपेक्षाओं पर खरा उतरना हम सबका दायित्व है। सदन में गंभीर और प्रभावी चर्चा से जनता के सम्मान में वृद्धि होगी। उन्होंने कहा विपक्षी सदस्यों को आश्वस्त करते हुए कहा कि सरकार उनके हर सुझावों पर गौर व भरपूर सहयोग करेगी।

सर्वदलीय बैठक में सभी दलीय नेताओं ने विधान सभा अध्यक्ष को सदन चलाने में सहयोग देने का आश्वासन दिया। संसदीय कार्यमंत्री ने कहा कि विपक्ष अगर चाहेगा तो सदन की कार्यवाही अच्छे से चलेगी। सदन चलाना है या नहीं, यह विपक्ष पर निर्भर करेगा। उन्होंने कहा कि सरकार तो चाहती है कि सदन अधिक से अधिक दिन तक चले और जनहित के मुद्दें पर सार्थक चर्चा हो। इसलिए हमने विपक्ष से सदन चलाने में मदद मांगी है। इस मौके पर सपा ने पूर्व मंत्री आजम खां पर चल रहे मुकदमों की जांच कराने की भी मांग रखी।

बैठक खत्म होने के बाद मुख्य विपक्षी सपा के मुख्य सचेतक मनोज कुमार पांडेय ने कहा कि कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर सरकार फेल रही है। प्रदेश में अपराधिक घटनाएं लगातार बढ़ रही है। खास तौर पर महिलाओं पर अपराध का ग्राफ बढ़ा है। विपक्षी दलों के नेताओं का उत्पीड़न किया जा रहा है। इसी तरह मंहगाई से आम जनता को दो जून की रोटी जुटाना मुश्किल हो गया है। उन्होंने कहा कि सरकार को सदन में इन मुद्दों के आधार पर ही घेरेंगे। पांडेय ने कहा कि कानून-व्यवस्था से लेकर महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध और किसानों और आम जनता से जुड़े मुद्दों पर सपा अपना मुखर आवाज उठाएगी।

सपा के अलावा बैठक में शामिल होने वाली  कांग्रेस विधायक दल की नेता अराधना मिश्रा ‘मोना’, बसपा के उमाशंकर सिंह, रालोद के राजपाल वालियान, सुभासपा के बेदीराम आदि विपक्षी नेताओं ने भी मंहगाई और कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर सरकार को घेरने का ऐलान किया है। बैठक में भाजपा की सहयोगी अपना दल एस की ओर से राम निवास वर्मा और निषाद पार्टी की ओर से अनिल कुमार त्रिपाठी और जनसत्ता दल (लोकतान्त्रिक) के विनोद सरोज भी मौजूद रहे।

इससे पूर्व कार्यमंत्रणा समिति की बैठक में भी विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना ने कहा कि सत्र के पहले दिन वर्तमान सदस्य के निधन का निदेश और 20 सितम्बर को तीन सदस्यों को जन्म दिन की बधाई दी जायेगी। इसके अगले दिन भूतपूर्व सदस्यों के निधन के निदेश और 22 सितंबर को प्रश्नकाल के बाद का समय महिला सदस्यों को चर्चा के लिए आरक्षित रहेगा, जो कि देश की सभी विधान सभाओं में अनूठा होगा। इस अवसर पर विधान सभा के प्रमुख सचिव प्रदीप कुमार दुबे व प्रमुख सचिव गृह संजय प्रसाद व अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

पूरी तैयारी के साथ सदन में आएं मंत्री-विधायक : योगी
विधानसभा सत्र के दौरान सरकार को घेरने की विपक्ष की रणनीति को देखते हुए सत्ता पक्ष ने भी कमर कस ली है। इस संबंध में रविवार को लोकभवन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में भाजपा विधानमंडल दल की बैठक हुई। इसमें मुख्यमंत्री ने सभी मंत्रियों और विधायकों को पूरी तैयारी के साथ सदन में आने को कहा है। उन्होंने सभी विधायकों को सदन में शत-प्रतिशत उपस्थिति दर्ज कराने को कहा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सदन लोकतंत्र का मंदिर है, इसलिए सभी विधायकों को मर्यादा का ध्यान रखना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार ने बीते पांच साल में बेहतर काम किया है। विपक्ष के पास सरकार को घेरने के लिए कोई मुद्दा नहीं है। इसलिए भाजपा विधायकों को विपक्ष के हर सवाल का जवाब देने के लिए पूरी तैयारी से सदन में आना होगा। उन्होंने कहा कि विपक्ष की ओर से उठाये जाने वाले मुद्दे का जवाब तथ्यों और आंकड़ों के आधार पर दिया चाहिए। इसके लिए सभी मंत्री और विधायक विपक्ष के आरोपों का जवाब देने के लिए पूरी तैयारी करके सदन में आएं। बैठक में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष भूपेन्द्र चौधरी और प्रदेश महामंत्री (संगठन) धर्मपाल समेत सभी विधायक मौजूद रहे।

महिलाओं को सदन में मिले बोलने का भरपूर मौका
बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि 22 सितंबर को सदन की कार्यवाही में महिला विधायकों को बोलने का भरपूर मौका मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि कोशिश होनी चाहिए कि सभी महिला विधायकों को बोलने का समय मिले और वह अपनी बात नि:संकोच सदन में रख सकें। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोशिश तो यह भी होनी चाहिए कि महिलओं के बोलने के लिए आरक्षित समय में विधानसभा में अध्यक्ष और विधान परिषद में सभापति की कुर्सी पर भी महिला सदस्य ही बैठे।





Source link

RELATED ARTICLES

गृह मंत्री अमित शाह ने सिक्किम में किया डेयरी सहकारी सम्मेलन का उद्घाटन

सिक्किम। गृह मंत्री अमित शाह आज सिक्किम के गंगटोक पहुंचे। जहां पर उनके स्वागत करने के लिए सैंकड़ों लोग सड़क के किनारे पहुंच रखे थे।...

गृह मंत्री अमित शाह ने सिक्किम में किया डेयरी सहकारी सम्मेलन का उद्घाटन

सिक्किम। गृह मंत्री अमित शाह आज सिक्किम के गंगटोक पहुंचे। जहां पर उनके स्वागत करने के लिए सैंकड़ों लोग सड़क के किनारे पहुंच रखे...

बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृह मंत्री अनुराग ठाकुर पहुंचे ऊना, आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर की बैठक

हिमाचल प्रदेश।  भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा और केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर रविवार को ऊना पहुंचे। नड्डा ने लालसिंगी में भाजपा कार्यालय...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

द्रौपदी का डांडा की चोटी पर एवलांच की चपेट में आए सात और प्रशिक्षु पर्वतारोहियों के शव बरामद

उत्तरकाशी‌। द्रौपदी का डांडा की चोटी पर एवलांच की चपेट में आए सात और प्रशिक्षु पर्वतारोहियों के शव आज शुक्रवार दोपहर तक खोज बचाव...

उत्तराखंड में जल्द हो सकता है नौकरशाही में फेरबदल, कई बड़े महकमों के बदले जा सकते हैं मुखिया

देहरादून। उत्तराखंड में कैबिनेट विस्तार की चर्चाओं के बीच एक बार फिर आईएएस और पीसीएस अधिकारियों के तबादलों को लेकर चर्चाओं का बाजार...

उत्तराखंड जल संस्थान का कार्यालय बना अखाड़ा, कुर्सी के लिए जेई-एई में चले लाठी-डंडे, कर्मचारियों के भी फूटे सर, थाने पहुंचा मामला

बाजपुर । जल संस्थान कार्यालय में तैनात एई व जेई के बीच आपसी बात को लेकर कहासुनी हो गई जिसमें देखते ही देखते...

पीएम मोदी आ रहे हैं उत्तराखंड, छोटी दिवाली पर केदारनाथ में कर सकते हैं दर्शन

देहरादून। पीएम नरेंद्र मोदी छोटी दिवाली 23 अक्टूबर को केदारनाथ धाम के दर्शन को पहुंच सकते हैं। मोदी का दौरा अभी प्रस्तावित है।...

महिलाओं को रोजगार एवं स्वरोजगार से जोड़ने के लिए प्रभावी प्रयासों की जरूरत: CM धामी

महिला सुरक्षा एवं महिला सशक्तिकरण की दिशा में विशेष ध्यान दिया जाए- मुख्यमंत्री पुलिस हेल्प डेस्क और हेल्पलाईन नम्बर 112 को और मजबूत बनाया जाए। महिला...

किच्छा में कोका कोला के गोदाम में इनकम टैक्स का छापा पड़ने से मचा हड़कंप

उधम सिंह नगर। किच्छा के किशनपुर में कोका कोला के गोदाम में आज इनकम टैक्स ने छापा मारा। छापा पड़ते ही यहां हड़कंप मच...

गृह मंत्री अमित शाह ने सिक्किम में किया डेयरी सहकारी सम्मेलन का उद्घाटन

सिक्किम। गृह मंत्री अमित शाह आज सिक्किम के गंगटोक पहुंचे। जहां पर उनके स्वागत करने के लिए सैंकड़ों लोग सड़क के किनारे पहुंच रखे थे।...

गृह मंत्री अमित शाह ने सिक्किम में किया डेयरी सहकारी सम्मेलन का उद्घाटन

सिक्किम। गृह मंत्री अमित शाह आज सिक्किम के गंगटोक पहुंचे। जहां पर उनके स्वागत करने के लिए सैंकड़ों लोग सड़क के किनारे पहुंच रखे...

यूट्यूबर बॉबी कटारिया ने देहरादून कोर्ट में किया सरेंडर

देहरादून। आखिरकार आज यूट्यूबर बॉबी कटारिया ने देहरादून कोर्ट में सरेंडर कर दिया। वह देहरादून पहुंचा और सीजेएम कोर्ट में सरेंडर कर दिया। जिसके...

उत्तराखंड में जल्द भरे जाएंगे खाली पड़े होमगार्ड के नौ सौ पद, महिलाओं को दिया जाएगा दस प्रतिशत कोटा

देहरादून।  उत्तराखंड के युवाओं के लिए अच्छी खबर है। होमगार्ड के कमांडेंट जनरल आईजी केवल खुराना ने बताया कि राज्य में जल्द ही सौ...