राष्ट्रीय

गहलोत मंत्रिमंडल विस्तार के बाद संयम लोढ़ा और राजकुमार समेत 6 MLA बनाये गये CM के सलाहकार

[ad_1]

जयपुर. गहलोत मंत्रिमंडल के विस्तार (Gehlot cabinet expansion) के बाद अब मंत्री बनने से वंचित रह गये विधायकों को राजनीतिक नियुक्तियां (Political Appointments) देने का सिलसिला भी शुरू हो गया है. इसके तहत मंत्रिमंडल विस्तार के तत्काल बाद रविवार रात को छह विधायकों को सीएम अशोक गहलोत का सलाहकार नियुक्त कर दिया गया है. इसमें सरकार समर्थित निर्दलीय विधायकों को पूरी तरजीह दी गई है. छह में से तीन सलाहकार निर्दलीय विधायकों को बनाया गया है. इनमें से कुछ को कैबिनेट और कुछ को राज्यमंत्री का दर्जा दिया जा सकता है.

सीएम अशोक गहलोत के सलाहकार बनाये गये 6 विधायकों में खेतड़ी विधायक डॉ जितेंद्र सिंह, नवलगढ़ विधायक डॉ. राजकुमार शर्मा, सवाई माधोपुर विधायक दानिश अबरार समेत निर्दलीय विधायक संयम लोढ़ा, बाबूलाल नागर और रामकेश मीणा शामिल हैं. संयम लोढ़ा सिरोही से विधायक हैं. वहीं बाबूलाल नागर दूदू से और रामकेश मीणा गंगापुर सिटी से विधायक हैं. सीएम अशोक गहलोत ने हाल ही में फिर बयान दिया था कि संकट के समय जिन लोगों ने 34 दिन हमारे साथ होटल में गुजारे थे हम उन्हें हम भूल कैसे सकते हैं?

ये है सलाहकार बनाये गये विधायकों का बैकग्राउंड
खेतड़ी विधायक डॉ. जितेंद्र सिंह 5 बार के विधायक हैं. वे पूर्व में कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं. डॉ. राजकुमार शर्मा है तीन बार से विधायक हैं. वे पिछली गहलोत सरकार में चिकित्सा राज्यमंत्री थे. दानिश अबरार पहली बार विधायक बने हैं. वे कांग्रेस के कद्दावर नेता रहे स्व. अबरार अहमद के पुत्र हैं. वहीं सिरोही के निर्दलीय विधायक संयम लोढ़ा तीन बार से विधायक हैं. संयम लोढ़ा की पहचान तेज-तर्रार विधायक के तौर पर है. वे अक्सर सीएम के साथ देखे जाते हैं. रामकेश मीणा गंगापुर सिटी से 2 बार के विधायक हैं. वे पूर्व में संसदीय सचिव रह चुके हैं. दूदू विधायक बाबूलाल नागर 4 बार के विधायक हैं. वे भी पूर्व में राज्यमंत्री रह चुके हैं.

इन जिलों को दिया गया है प्रतिनिधित्व
सलाहकार बनाये गये विधायकों में से डॉ. जितेंद्र सिंह और डॉ. राजकुमार शर्मा झुंझुनू जिले से हैं. दानिश अबरार और रामकेश मीणा सवाई माधोपुर जिले से हैं. संयम लोढ़ा सिरोही और बाबूलाल नागर है जयपुर जिले से हैं. सवाई माधोपुर जिले का मंत्रिमंडल में प्रतिनिधित्व नहीं है. अब इस जिले से 2 विधायकों को मुख्यमंत्री का सलाहकार बनाया गया है. सिरोही जिले से भी मंत्रिमंडल में प्रतिनिधित्व नहीं है. लेकिन अब वहां से संयम लोढ़ा की सलाहकार के तौर पर नियुक्ति की गई है.

किसी भी निर्दलीय विधायक को मंत्रिमंडल में नहीं मिली थी जगह
झुंझुनूं जिले से अब तक मंत्रिमंडल में प्रतिनिधित्व नहीं था. अब वहां बृजेंद्र सिंह ओला और राजेंद्र गुढ़ा राज्यमंत्री हैं. वहीं डॉ. जितेंद्र सिंह और डॉ. राजकुमार शर्मा अब मुख्यमंत्री के सलाहकार बन गये हैं. इन विधायकों को मुख्यमंत्री का सलाहकार बना कर बड़ी जिम्मेदारी दी गई है. सलाहकार के रूप में इन विधायकों की बड़ी भूमिका रहेगी. उल्लेखनीय है कि सरकार समर्थित किसी भी निर्दलीय विधायक को मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिली थी. इससे उनमें मायूसी थी. लेकिन अब उन्हें सलाहकार के रूप में बड़ी जिम्मेदारी दी गई है.

Tags: Congress politics, Rajasthan latest news, Rajasthan News Update, Rajasthan Politics



[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fapjunk