राष्ट्रीय

इजरायल के प्रधानमंत्री नफ्ताली बेनेट ने दिया PM मोदी को अपनी पार्टी में शामिल होना का न्योता, जानें पूरा मामला

[ad_1]

ग्लासगो. इजरायली प्रधानमंत्री नफ्ताली बेनेट (Israel PM Naftali Bennet)  और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के बीच मंगलवार को हुई बैठक में हल्का-फुल्का पल सामने आया जब बेनेट ने पीएम मोदी के सामने अपनी पार्टी में शामिल होने का प्रस्ताव रखा. साथ ही बेनेट ने कहा कि वह इजरायल में काफी मशहूर हैं. स्कॉटलैंड के ग्लासगो में जारी COP26 क्लाइमेट चेंज समिट के इतर दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय वार्ता की. दोनों नेताओं की इस बातचीत का एक वीडियो भी सामने आया है. इस वीडियो में नफ्ताली बेनेट प्रधानमंत्री मोदी से हाथ मिलाते हुए कह रहे हैं, “आप इजरायल में सबसे मशहूर व्यक्ति हैं. आइये और मेरी पार्टी में शामिल हो जाइये.” इस टिप्पणी का जवाब देते हुए मोदी ने कहा, ‘‘धन्यवाद, धन्यवाद.’’ बेनेट की इस बात के बाद दोनों नेता खिलाखिलाकर हंस देते हैं.

चुनावों में बेंजामिन नेतन्याहू की हार के बाद इजरायल के प्रधानमंत्री के तौर पर इसी साल जून में कार्यभार संभालने के बाद नफ्ताली बेनेट और प्रधानमंत्री मोदी के बीच यह पहली औपचारिक बैठक हुई है. इस बैठक में दोनों नेताओं ने देशों के द्विपक्षीय संबंधों की समीक्षा की और टेक्नोलॉजी और इनोवेशन के क्षेत्र में आपसी सहयोग को और बढ़ाने के मुद्दे पर चर्चा की. औपचारिक बैठक सोमवार को जलवायु सम्मेलन के दौरान उनकी संक्षिप्त बातचीत के बाद हुई.

इससे पहले, प्रधानमंत्री मोदी ने बेनेट के साथ हुई मुलाकात को याद करते हुए कहा कि भारत के लोग इजराइल के साथ मित्रता को काफी महत्व देते हैं.

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने ट्वीट किया, ‘‘इजराइल के साथ मित्रता को और प्रगाढ़ करते हुए. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और नफ्ताली बेनेट की ग्लासगो में सार्थक बैठक हुई. दोनों नेताओं ने हमारे नागरिकों के फायदे के लिए सहयोग के विभिन्न उपायों को मजबूत करने पर चर्चा की.’’

मोदी और बेनेट के बीच यह मुलाकात विदेश मंत्री एस. जयशंकर के पिछले महीने इजराइल दौरे के दौरान मोदी की ओर से इजराइल के प्रधानमंत्री को भारत आने का निमंत्रण देने के बाद हुई है.

इजराइल मीडिया की खबरों के मुताबिक इस साल जून में प्रधानमंत्री बने बेनेट के अगले साल भारत की यात्रा करने की संभावना है.

जुलाई 2017 में प्रधानमंत्री मोदी की इज़राइल की ऐतिहासिक यात्रा ने भारत और इज़राइल के द्विपक्षीय संबंधों को एक रणनीतिक साझेदारी तक बढ़ाया था. तब से, दोनों देशों के बीच संबंध ज्ञान-आधारित साझेदारी के विस्तार पर केंद्रित हैं, जिसमें ‘मेक इन इंडिया’ पहल को बढ़ावा देने सहित नवाचार और अनुसंधान में सहयोग शामिल है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fapjunk