उत्तराखंड

Lakhimpur Kheri: प्रियंका गांधी, टिकैत पहुंचेंगे, मारे गए किसानों के लिए अंतिम अरदास आज, UP उत्तराखंड में पुलिस अलर्ट

[ad_1]

लखीमपुर खीरी/देहरादून. उत्तर प्रदेश के लखीमपुर में मारे गए किसानों की अंतिम अरदास का आयोजन मंगलवार को किया जाना है. किसान मोर्चे के इस तरह आह्वान के तहत खास तौर से उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के कई हिस्सा में गुरुद्वारों में किसान इकट्ठे होकर अंतिम अरदास कर मारे गए किसानों की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करेंगे. इस मौके पर कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी मंगलवार को फिर लखीमपुर पहुंच सकती हैं. खबरों की मानें तो हिंसा पीड़ित परिवारों के यहां अंतिम अरदास में प्रियंका शामिल हो सकती हैं. वहीं, राकेत टिकैत समेत अन्य कुछ किसान नेताओं के भी लखीमपुर और यूपी के कुछ अन्य ज़िलों में पहुंचने की बात कही जा रही है. इस आयोजन के पहले उत्तराखंड पुलिस भी अलर्ट मोड पर आ गई है.

कितने बड़े स्तर पर होगा कार्यक्रम
लखीमपुर तिकुनिया में अंतिम अरदास की तैयारियां करते हुए किसान बहुत बड़े क्षेत्र में पंडाल लगा रहे हैं. अंतिम अरदास के बाद अस्थि कलश कार्यक्रम होगा. कार्यक्रम में बेशुमार जत्थे सहित अन्य संगत के आने की पूरी उम्मीद जताई जा रही है. राकेश टिकैत, गुरनाम चढूनी, जयंत चौधरी जैसे दिग्गज नेताओं के कार्यक्रम में शरीक होने की खबर है. जयंत सिंह ने ट्वीट किया कि वह 12 अक्टूबर को मृतक किसानों की अरदास में लखीमपुर पहुंचेंगे. वहीं, राकेश टिकैत ने बताया कि 18 को ट्रेन रोको कार्यक्रम होगा. इससे पहले शहीद किसानों का कलश पूरे भारत में घुमाया जाएगा और 26 तारीख को बड़ी पंचायत लखनऊ में होगी.

ये भी पढ़ें : Uttarakhand Politics : चार साल बाद कांग्रेस में यशपाल आर्य की वापसी, लेकिन सूत्रधार कौन?

up news, priyanka gandhi, rakesh tikait, Uttarakhand news, farmers protest, farmers movement, lakhimpur kheri news, यूपी न्यूज़, उत्तराखंड ताजा समाचार, किसान आंदोलन, लखीमपुर खीरी समाचार

संयुक्त किसान मोर्चे के आह्वान पर बड़े पैमाने पर अंतिम अरदास आयोजन होने जा रहा है. (File Photo)

छावनी में तब्दील किए जा रहे देहरादून, ​हरिद्वार
लखीमपुर खीरी में मारे गए किसानों की आत्मा की शांति के लिए संयुक्त किसान मोर्चे के आह्वान पर किसान अपने इलाके के गुरुद्वारे में जाकर अरदास करेंगे. इसी के मद्देनज़र हरिद्वार, देहरादून ज़िले के बॉर्डर्स पर भी एहतियातन फोर्स बढ़ाई गई है और किसानों की सभी गतिविधियों पर उच्चाधिकारियों द्वारा नज़र रखी जा रही है. डीआईजी करन सिंह नगन्याल के मुताबिक सभी ज़िलों में सभी एसएसपी और एसपी को मंगलवार के दिन किसानों के मूवमेंट को लेकर सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं. उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था बिगाड़ने पर सख्त कार्रवाई किए जाने के आदेश भी दिए गए हैं.

आपको बता दें कि 3 अक्टूबर को उत्तरप्रदेश के लखीमपुर खीरी हिंसा में किसानों के मारे जाने के बाद से ही बवाल मचा हुआ है. मारे गए किसानों के लिए अंतिम अरदास 12 अक्टूबर को करने के लिए संयुक्त किसान मोर्चा ने आह्वान किया है. बताया जा रहा है कि हिंसा स्थल के पास ही ‘अंतिम अरदास’ का मुख्य आयोजन किया जा रहा है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fapjunk